दोस्त ने चोदा मम्मी को गाली दे दे कर जबर्दस्त तरीके से - BUZZ Virtual Spaces

दोस्त ने चोदा मम्मी को गाली दे दे कर जबर्दस्त तरीके से

Slot Siteleri En İyi 10 Güvenilir Slot Oyunları Canlı Casino Oyna
March 29, 2024
Новости Компаний Новости В Актау Сегодня На Inaktau Kz
March 30, 2024

दोस्त ने चोदा मम्मी को गाली दे दे कर जबर्दस्त तरीके से

फिर मम्मी मुझे पास ही के एक डॉक्टर के पास ले गई और उस डॉक्टर ने मेरा इलाज किया.. फिर दूसरे ही दिन सुबह मम्मी सुनील के घर पर जाने वाली थी और वो सुबह मुझे उठाने आई.. दोस्तों में तो उसे देखकर एकदम दंग रह गया, क्योंकि मम्मी ने उस समय काली और लाल रंग की डिजाईन वाली साड़ी पहन रखी थी और उनका वो ब्लाउज पीछे से इतना छोटा था कि उनकी गोरी गोरी नंगी पीठ साफ साफ दिख रही थी.. उनके बूब्स एकदम तने हुए थे, जिसको देखकर हर किसी की नियत खराब हो जाए.. दोस्तों यह शब्द बोलकर वो तुरंत उठ गई और अपने दोनों नंगे बूब्स को हिला हिलाकर भागने लगी, लेकिन सुनील ने एकदम से उन्हें पकड़कर बेड पर बैठा दिया और फिर उसने अपना लंड मेरी मम्मी के मुहं के पास रख दिया और बोला.. दोस्तों सुनील बहुत गुस्से में था और उसने आज अपने मन में ठान ही लिया था कि वो मेरी मम्मी से उसके थप्पढ़ का बदला जरुर लेगा और वो मेरे साथ साथ आज उन्हें भी मारेगा..mostbet aviator

  • उनके बूब्स एकदम तने हुए थे, जिसको देखकर हर किसी की नियत खराब हो जाए..
  • हम एक दूसरे के साथ बहुत अच्छी तरह से रहते और मज़े करते और घूमते फिरते थे, लेकिन एक दिन किसी बात को लेकर मेरा और उसका बहुत झगड़ा हुआ और उसने मुझे बहुत मारा, जिसकी वजह से मेरी नाक से खून निकलने लगा था..
  • फिर मम्मी अब उसकी ऐसी हरकते देखकर समझ गई थी कि अब वो उनकी गांड को मारने वाला है..
  • फिर दूसरे ही दिन सुबह मम्मी सुनील के घर पर जाने वाली थी और वो सुबह मुझे उठाने आई..

फिर उसने ज़ोर से बूब्स को पकड़ा और मसलने लगा, वो बहुत बेरहमी से बूब्स को निचोड़ने लगा था, जिसकी वजह से दोनों बूब्स एकदम लाल हो गये थे और मम्मी रोते हुए उससे बोल रही थी.. मम्मी नहीं मानी और में भी तैयार हो गया और हम दोनों घर के बाहर निकले और जाने के लिए रिक्शा ढूँढने लगे और तब मैंने गौर किया कि सभी लोग मेरी मम्मी की गांड को देख रहे थे.. फिर हम ऑटो में बैठ गये और सुनील के घर चले गये और उस समय सुनील घर पर अकेला था, मम्मी ने बाहर से ही उसे आवाज़ लगाई.. फिर सुनील बाहर आ गया, उसने बनियान और पेंट पहनी हुई थी और उसकी नज़र मेरी मम्मी के ऊपर पढ़ते ही वो तो बिल्कुल पागल ही हो गया और वो मम्मी को बहुत घूर रहा था, उसने इससे पहले कभी भी मेरी मम्मी को नहीं देखा था.. दोस्तों अब वो मेरी मम्मी पर बहुत गुस्सा करने लगा और वो मेरी मम्मी से बोला..

Mostbet क्या है?

दोस्तों सुनील अब बहुत ज़ोर ज़ोर से मेरी मम्मी की गांड को लगातार धक्के मारे जा रहा था.. तभी कुछ देर बाद मैंने देखा कि लंड के अंदर बाहर होने के साथ साथ अब उनकी गांड से खून भी बाहर निकल रहा था और अब मम्मी बेहोश सी होने लगी थी और वो करीब 20 मिनट तक बिना रुके गांड में लंड को धक्के मारे जा रहा था.. फिर कुछ देर बाद मम्मी धीरे धीरे अपने होश में आई तो उसने अपना लंड बाहर निकाल लिया और अपना वीर्य उसने मेरी मम्मी के चेहरे पर निकाल दिया.. उसके लंड से बहुत सारा लावा निकला और मम्मी चेहरे से पूरी रंडी की तरह लग रही थी, वो बिल्कुल संतुष्ट एकदम निढाल होकर पढ़ी हुई थी, उसने अपना मोबाईल एक कोने में रखकर वो सब कुछ रिकॉर्ड कर लिया था.. दोस्तों यह बात कहकर उसने तुरंत मम्मी को उसी जगह पर उल्टा कर दिया और अब वो उनके बड़े बड़े कूल्हों पर लगातार थप्पढ़ मारने लगा था.. फिर मम्मी अब उसकी ऐसी हरकते देखकर समझ गई थी कि अब वो उनकी गांड को मारने वाला है..

mostbet

वो मेरी मम्मी के तने हुए बूब्स को लगातार गंदी गंदी नजरों से घूरता ही जा रहा था.. वो मेरी मम्मी को खा जाने वाली नजरों से देख रहा था और मुझे उससे बहुत डर लग रहा था.. में सुनील को रोकने के लिए उसको पकड़कर दूर करने लगा, लेकिन उसकी ताक़त के सामने में कुछ भी नहीं कर सका और उसने मुझे एक मुक्का मार दिया..

आपको Mostbet ऐप क्यों डाउनलोड करना चाहिए?

फिर उसने मुझे रस्सी खोलकर आजाद कर दिया और फिर मेरी मम्मी ने जल्दी से अपने कपढ़े पहन लिए और सुनील भी कपडे पहनकर अपने घर पर चला गया …. फिर उसने मम्मी की नाक बंद कर दी और मम्मी का मुहं खुलते ही उसने अपना पूरा का पूरा लंड अंदर डाल दिया और ज़ोर ज़ोर से उनका सर पकड़कर हिला रहा था और फिर मेरी तरफ सुनील ने देखा और बोला.. दोस्तों यह बात पूछते ही मम्मी ने उसे दो जोरदार थप्पढ़ लगाए, जिसकी वजह से वो तो बिल्कुल पागल हो गया और अब वो ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगा.. फिर ऐसा कहकर उसने सीधा अपने लंड को गांड के मुहं पर रख दिया और एक जोरदार धक्का मार दिया, जिसकी वजह से लंड अंदर चला गया और मम्मी उस दर्द से एक बार फिर से तड़पने लगी और चिल्ला उठी..

आधिकारिक साइट Mostbet इंडिया लॉन्च करें।

दोस्तों लेकिन सुनील ने मम्मी की एक भी बात नहीं सुनी और उसने दबाकर मसलकर उनके बूब्स को पूरे लाल कर दिए थे.. अब उसने मम्मी की ब्रा का हुक खोलने की कोशिश की, लेकिन मम्मी उसे नहीं खोलने दे रही, तभी उसने ब्रा को एक जोरदार झटका देकर तुरंत फाड़ दिया, जिसकी वजह से अचानक से उनके दोनों बड़े आकार के बूब्स बाहर निकल आए.. मुझे बिल्कुल भी मालूम नहीं था कि मेरी मम्मी के इतने बड़े बड़े बूब्स होंगे, क्योंकि मैंने आज तक उन्हें कपढ़ो के अंदर ही देखा था और बाहर से में आज पहली बार देख रहा था, मेरी आखें उन्हें देखकर बहुत चकित थी.. सुनील का गुस्सा देखकर में बहुत डर गया, इसलिए में अपनी मम्मी को वहां से वापस ले आया.. अब मुझे घर पर भी बहुत डर लग रहा था कि सुनील मुझे वापस जरुर मारेगा, क्योंकि उसका गुस्सा बहुत खराब है और वो जो भी बात कहता है वो काम जरुर करता है..

पहले रजिस्ट्रेशन के लिए Mostbet बोनस कैसे प्राप्त करें?

अब वो मम्मी को और मुझे घसीटकर बेडरूम में ले गया, वहां पर उसने मम्मी को बेड पर फेंक दिया और मुझे पकड़कर सामने वाली कुर्सी पर बाँध दिया, जिसकी वजह से में अब बिल्कुल भी हिल नहीं पा रहा था.. फिर वो मम्मी को बेड पर ले जाकर वो खुद उनके ऊपर लेट गया और वो अब मम्मी को बहुत बेरहमी से मारने लगा, लेकिन में कुछ भी नहीं कर सकता था.. फिर उसने अपने कपढ़े उतार दिए, वो सिर्फ़ अंडरवियर में था और उसका लंड इतना टाईट हो गया था कि उसकी अंडरवियर टेंट की तरह खड़ी हो गई थी और अब वो मम्मी के ऊपर कूद पढ़ा और मम्मी ज़ोर ज़ोर से रोए जा रही थी.. दोस्तों सुनील उसकी कोई भी बात को ना सुनते हुए चूत को लगातार चाटता, चूसता जा रहा था और उंगली भी कर रहा था, मम्मी आह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह मम्मी मर गई कि आवाजे निकालती हुई अपनी चूत को उससे चटवा रही थी.. दोस्तों कुछ देर बाद मैंने गौर किया कि मम्मी का विरोध करना अब धीरे धीरे सिसकियों में बदल रहा था, वो अब शांत होती जा रही थी, शायद उनको अब अपनी चूत को उससे उसकी जीभ से चुदवाने में थोड़ा मज़ा आने लगा था और वो मेरे वहां पर होने की वजह से थोड़ा सा नाटक उछलकूद कर रही थी, क्योंकि उसने मेरी मम्मी की चूत को बहुत जमकर जोश में आकर चूसा, जिसकी वजह से अब मम्मी भी गरम होने लगी थी.. फिर सुनील ने सही मौका देखकर अपनी अंडरवियर को उतार दिया तो मम्मी की आखें एकदम से बाहर आ गई थी, क्योंकि अंडरवियर से बाहर निकला वो लंड करीब 7 इंच बड़ा था, जिसको देखकर उनकी आखें फटी की फटी रह गई थी..

फिर दूसरे दिन रविवार था और सुबह के 10 बजे थे, मम्मी ने घर पर उस समय बड़े गले की मेक्सी पहनी हुई थी और उसने अंदर काली कलर की ब्रा पहनी हुई थी और जिसकी वजह से उसके बड़े बड़े बूब्स बहुत टाईट लग रहे थे, तभी अचानक घंटी बजी और मैंने दरवाज़ा खोलकर देखा तो बाहर सुनील खड़ा हुआ था.. उसने दरवाज़े पर ही मुझे ज़ोर की लात मारकर नीचे गिरा दिया और फिर उसने दरवाज़ा अंदर से बंद कर दिया, वो मुझे अब बहुत गंदी गंदी गालियाँ देने लगा था और में बहुत डर रहा था.. में twelfth क्लास में पढ़ता हूँ और मेरी क्लास में मेरा एक बहुत अच्छा दोस्त है, जिसका नाम सुनील है और वो दिखने में बहुत हट्टा कट्टा है और हम दोनों कुछ समय पहले तक बहुत पक्के दोस्त थे और हमारे बीच बहुत बनती थी.. हम एक दूसरे के साथ बहुत अच्छी तरह से रहते और मज़े करते और घूमते फिरते थे, लेकिन एक दिन किसी बात को लेकर मेरा और उसका बहुत झगड़ा हुआ और उसने मुझे बहुत मारा, जिसकी वजह से मेरी नाक से खून निकलने लगा था.. फिर जब में अपने घर पर गया तो मेरी मम्मी मुझे इस हालत में देखकर अचानक से बहुत परेशान हो गई और वो मुझसे बोली..

अब उनकी गांड भी उस मोटे लंड को लेने के लिए बिल्कुल तैयार उनके चेहरे से वो खुश नजर आ रही थी, लेकिन मेरे सामने वो मुझे दिखाने के लिए विरोध कर रही थी.. फिर लंड मुहं से बाहर निकाला और उसने मम्मी को उठाकर पटक दिया और वो उनके ऊपर चड़ गया, उसने बीच में आकर मम्मी की दोनों जांघो को कसकर पकड़ा और दूर कर दिया और अपने लंड को चूत के मुहं पर रख दिया और एक ही जोरदार धक्का देते हुए उसने चूत में अपना 6 इंच का लंड पूरा ही अंदर डाल दिया.. दोस्तों मेरी मम्मी बहुत दिनों से नहीं चुदी थी, इसलिए वो तो अचानक से हुए उस वार से कराह उठी और अब वो ज़ोर ज़ोर से चीख रही थी और पूरे रूम में उनकी आवाज सुनाई दे रही थी, वो लंड को बाहर निकालने की नाकाम कोशिश कर रही थी.. दोस्तों अब वो मम्मी की चूत में उंगली डालकर शुरू हो गया, वो बहुत बेरहमी से ज़ोर ज़ोर से अपनी उंगली को चूत में अंदर बाहर कर रहा था और मम्मी उस दर्द से चीखते हुए करहाते हुए तड़पने लगी थी, लेकिन उसके ऊपर कोई भी असर नहीं था, वो तो अपनी मस्ती में मस्त था..